छत्तीसगढ़ में कोरोना की कड़ी सख्त लॉकडाउन नहीं लेकिन सभी स्कूल-कॉलेज और आंगनबाड़ी केंद्र बंद रहेंगे , CM भूपेश बघेल ने समीक्षा बैठक में दिए निर्देश

[ad_1]

छत्तीसगढ़ में कोरोना की कड़ी सख्त   लॉकडाउन नहीं लेकिन सभी स्कूल-कॉलेज और आंगनबाड़ी केंद्र बंद रहेंगे , CM भूपेश बघेल ने समीक्षा बैठक में दिए निर्देश। 

                                                     

छत्तीसगढ़ में तेजी से बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए राज्य सरकार ने फैसला लिया है। सरकार ने राज्य में सभी स्कूल-कॉलेज और आंगनबाड़ी केंद्रों को फिर से बंद करने का आदेश जारी किया है। अब सभी स्कूलों और कॉलेजों की क्लास और परीक्षाएं ऑनलाइन आयोजित की जाएंगी। सरकार ने आदेश को सख्ती से लागू करने को आदेश दिया है । यह जानकारी सरकार की तरफ से कृषि मंत्री रविंद्र चौबे ने दी है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में हाई लेवल मीटिंग हुई। इसमें कोरोना के हालातों पर समीक्षा की गई। बैठक में मंत्रिमंडल के सदस्यों के साथ सीनियर अफसर भी मौजूद रहे। वहीं, स्कूल शिक्षामंत्री डॉक्टर प्रेमसाय सिंह टेकाम ने बताया कि अभी परीक्षाओं को लेकर फैसला स्पष्ट नहीं है। बोर्ड और बाकी सभी परीक्षाएं ऑफलाइन आयोजित की जाएंगी। जल्द इससे जुड़ा आदेश जारी कर दिया जाएगा।

मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना जरुरी होगा  : 

CM भूपेश बघेल ने सभी को मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना टेस्ट बढ़ाने के निर्देश दिए हैं। संक्रमित मरीजों के इलाज के लिए कोविड अस्पतालों और आइसोलेशन सेंटर में ऑक्सीजन की व्यवस्था को चाक चौबंद करने के निर्देश भी CM बघेल ने दिए ङैं। साथ ही हेल्थवर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स, 45 से ज्यादा की उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाने पर जोर देने का फैसला किया है 

होली और सार्वजनिक आयोजनों के लिए अलग से गाइडलाइन बनाया जायेगा। 

होली के साथ ही शादी,  अन्य सार्वजनिक आयोजनों के संबंध में जल्दी ही गाइडलाइन जारी की जाएगी। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मुख्य सचिव अमिताभ जैन की अध्यक्षता में गृह, स्वास्थ्य, नगरीय प्रशासन, स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा, महिला एवं बाल विकास, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, पर्यटन और सामान्य प्रशासन विभाग के अधिकारियों की समिति बनाई है। अगले दो दिनों में यह समिति बैठक कर इन आयोजनों के लिए दिशानिर्देश जारी करेगी। 



[ad_2]

Leave a Comment