बैरा परिसर में हाथियों ने तोड़े मकान, रौंदी फसल –

कोरबा 19 जुलाई। जिले के कोरबा एवं कटघोरा वनमंडल में हाथी समस्या जारी है। यहां 26 की संख्या में हाथी अलग-अलग स्थानों पर घूम रहे हैं और उत्पात मचाकर ग्रामीणों के मकान व फसल को नुकसान पहुंचा रहे हैं। वनमंडल कटघोरा के पसान रेंज में मौजूद 24 हाथियों में से तीन ने बीती रात जमकर उत्पात मचाते हुए जहां बैरा परिसर के घोड़ाद्वारी गांव अंतर्गत धनुहार पारा, उतरदा में तीन ग्रामीणों के मकान तोड़ दिए, वहीं खेत में लगे खरीफ फसलों को भी भारी नुकसान पहुंचाया है। हाथियों ने घर में रखे धान व चावल को भी चट कर दिया। जिस समय यहां हाथियों ने घरों को निशाना बनाया, उस समय वहां पर कोई मौजूद नहीं थे।

हाथियों के क्षेत्र में पहुंचने की सूचना मिलते ही वन विभाग का अमला तत्काल मौके पर पहुंचकर लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया था। लेकिन एक महिला जिद करके अपने घर पर ही रूक गई थी। जैसे ही हाथी ने उसके घर का दरवाजा तोड़ा, महिला भागकर अपनी जान बचाई और गली में पहुंच गई जिसे वन विभाग के लोगों ने सुरक्षित स्थान पहुंचाया। हाथियों का उत्पात पूरे रात भर चला। इस दौरान ग्रामीण रतजगा करते रहे। सुबह होने पर हाथियों ने जंगल का रूख किया तब ग्रामीण और वन अमला ने राहत की सांस ली। आज सुबह वन विभाग का अमला फिर गांव पहुंचा और रात में हाथियों द्वारा किये गए नुकसानी का आंकलन करने के साथ रिपोर्ट अपने उच्चाधिकारियों को सौंपी। हाथियों ने जाते समय किसानों की खेत में लगे धान की फसल को भी रौंद दिया है। 21 हाथी पसान रेंज के ही बनिया परिसर में घूम रहे हैं। ये फिलहाल शांत हैं।

इधर कोरबा वनमंडल में भी दो दंतैल हाथियों ने दस्तक दे दी है। इनमें से एक को आज करतला रेंज के बोतली गांव में देखा गया। जबकि दूसरा दंतैल कुदमुरा जंगल में विचरण कर रहा है। फिलहाल दोनों दंतैल साथ हैं। हाथियों ने कोई नुकसान नहीं पहुंचाया है लेकिन देर-सबेर उत्पात की संभावना को देखते हुए वन विभाग सतर्क हो गया है और दंतैलों की निगरानी करने के साथ ही क्षेत्र में मुनादी का काम शुरू कर दिया है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *