दो लाख के मवेशियों की चोरी, तीन आरोपी गिरफ्तार –

कोरबा 19 जुलाई। सीतामणी क्षेत्र से तीन भैस व उसके एक बच्चे समेत दो लाख कीमती मवेशियों को अज्ञात चोरों ने पार कर दिया। मवेशी मालिकों की शिकायत के आधार पर कोतवाली पुलिस ने कार्रवाई करते हुए तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है। मुख्य आरोपित तस्कर की तलाश करने रायपुर में कई स्थान पर दबिश दी गई, पर वह नहीं मिला।

मामले को तस्करी से जोड़ कर देखा जा रहा है। सीतामणी निवासी बबलू यादव पप्पू पशुपालन करते हैं। कोतवाली पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराते हुए बताया कि वह भैस को चारागाह में छोड़ देता है। इसी दौरान किसी व्यक्ति ने उसकी भैस की चोरी कर ली, उसकी कीमत लगभग दो लाख रूपये है। उसने पुलिस से मामले में उचित कार्रवाई की मांग करते हुए आरोपितों को पकड़ने कहा। पुलिस ने मामला पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया और मुखबिरों को सजग किया। मुखबिर से सूचना मिलने पर अंकुश यीशु और उसके एक मित्र को संदेह के आधार पकड़ कर पूछताछ की, पहले तीनों घटना से मुकरते रहे, पर बाद में पुलिस के समक्ष टूट गए और उन्होंने भैस चोरी करना स्वीकार कर लिया। साथ ही मवेशी रायपुर भेजने की जानकारी दी। थाना प्रभारी विवेक शर्मा ने बताया कि आरोपितों ने मवेशी तस्कर सलमान कुरेशी को मवेशी बेचने की बात कही। इस पर पुलिस की टीम बनाकर सलमान की पतासाजी की जा रही है। रायपुर में संभावित इलाके में दबिश भी दी गई, पर वहां नहीं मिला। उन्होने कहा कि पशु तस्करी करने के मामले में तीनों आरोपितों के साथ कुछ अन्य लोग भी जुड़े हुए हैं, उनके संबंध में पतासाजी की जा रही है। संभावना है कि जल्द ही सभी आरोपित पकड़े जाएंगे। इस घटना मवेशी पालकों में भय का माहौल व्याप्त हो गया है। उन्हें अपने मवेशियों की चिंता सताने लगी है। जानकारों का कहना है कि क्षेत्र में मवेशी तस्कर गिरोह के सदस्य सक्रिय हो गए हैं और योजनाबद्ध ढंग से चोरी करने जुट गए हैं। प्रदेश से मवेशी चोरी कर अन्य राज्यों में स्थित बुचड़खाना भेजे का मामला पहले भी सामने आ चुका है। पुलिस कार्रवाई के बाद भी ऐसे लोगों को हौसले बुलंद हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *