टीका लगाने से 27 मवेशियों की हुई मौत –

कोरबा 20 जुलाई। पोड़ी उपरोड़ा ब्लॉक के कोरबी में कुछ पशुओं की मौत के मामले को लेकर पशु चिकित्सा विभाग हरकत में आ गया है। खबर में कहा गया कि वैक्सीन लगाने के कारण मवेशियों की हालत बिगड़ी और कुछ की मौत हो गई। वास्तविक संख्या ज्ञात नहीं हो सकी है। इस बीच अलग-अलग तरह की खबरों के फैलने के बाद पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारी मौके के लिए रवाना हो गए।

कहा जा रहा है कि जुलाई के पहले पखवाड़े में ग्राम कोरबी में पशु चिकित्सक उरांव व सहयोगी द्वारा फोर्टीफाइड प्रोकेन पेनिसिलिन इंजेक्शन आईपी इन मवेशियों को लगाया गया था। टीका लगने के कुछ घंटे बाद 5 किसानों के मवेशियों की जान चली गई तो कुछ मवेशी मरने की कगार पर हैं। मवेशी मालिक देवनारायण ने बताया कि कुछ दिन पहले उनके 22 मवेशियों को पशु चिकित्सक के द्वारा टीका लगाया गया था उसके बाद मवेशियों की मौत होने का सिलसिला शुरू हुआ और कई मवेशी अभी भी मरने के कगार पर है। एक और मवेशी मालिक संजय कुमार ने बताया कि उनके 5 मवेशियों को टीका लगाया गया था उसके बाद सभी की मौत हो गई। दौरे पर पहुंचे पाली.तानाखार विधायक मोहितराम केरकेट्टा को ग्रामीणों ने मवेशियों को लगाए गए वैक्सीन इंजेक्शन की शीशी भी दिखाई। विधायक ने दुःख व्यक्त करते हुए जांच की बात कही है। इनकी मौत डॉक्टर की लापरवाही से हुई है या फिर वजह कुछ और है, इसकी बारीकी से जांच कराई जाएगी।

पीड़ित पशु मालिक मुआवजा की मांग कर रहे हैं। कुछ दिनों पहले ही कोरबा के गोकुल नगर गौठान में दो मवेशी की मौत हुई थी और कई बीमार है। मवेशियों की मौत की संख्या क्या है और इसके पीछे असली कारण क्या हैए यह स्पष्ट होना बाकी है। प्रशासन के निर्देश पर पशु चिकित्सा विभाग मामले की जांच पड़ताल में जुटा हुआ है। इसके आधार पर ही वास्तविकता स्पष्ट हो सकेगी।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *