टाईगर रिजर्व उदंती से लापता वनभैसा का मामला गरमाने लगा, वन अफसराें पर कार्यवाही की मांग को लेकर आम आदमी पार्टी सड़क की लड़ाई लड़ने सौंपा ज्ञापन

वनमंत्री मोहम्मद अकबर के नाम ज्ञापन सौपकर लापरवाह वन अफसराें को बर्खास्त करने की मांग

छत्तीसगढ़

गरियाबंद-मैनपुर/स्वराज टुडे: छत्तीसगढ राज्य के राजकीय पशु वनभैसा रामू उदंती सीतानदी टाईगर रिजर्व क्षेत्र के जंगल से लापता हो गया है, जबकि छत्तीसगढ सरकार द्वारा वनभैसो के सरंक्षण और संवर्धन के नाम पर करोडो रूपये खर्च किया जा रहा है और तो और वन भैसों की घटती संख्या को देखते हुए इसके दुर्लभता के चलते अफ्रीका से विशेषज्ञों की टीम लाखों रूपये खर्च कर उन्हे उदंती अभ्यारण्य में लाकर वनभैसों के गले में काॅलर आईडी लगाया गया है जिससे वन भैसों का पल पल का खबर वन विभाग के आला अफसरों को सेटेलाईट के माध्यम से राजधानी तक मिलता रहे, इसके बावजूद भी उदंती सीतानदी अभ्यारण्य क्षेत्र के जंगल से काफी दुर्लभ राजकीय पशु वनभैसा रामू के पिछले 06-07 वर्षो से लापता होने के मामले अब तुल पकडने लगा है, आज गुरूवार को वनभैसा रामू के लापता मामले को लेकर आम आदमी पार्टी के बिन्द्रानवागढ विधानसभा अध्यक्ष हनीफ मेमन के नेतृत्व में स्थानीय पार्टी कार्यकर्ताआें ने रैली निकाल नारेबाजी करते अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय पहुचकर वन मंत्री छत्तीसगढ शासन मोहम्मद अकबर के नाम ज्ञापन सौपकर मांग किया है कि उदंती सीतानदी टाईगर रिजर्व से राजकीय पशु वनभैसा रामू लापता हो जाता है, और वन विभाग के अफसरों व कर्मचारियाें को पता भी नही चल पाता रामू वनभैसा के लापता होने में लापरवाही बरतने वाले सबंधित वन विभाग के जिम्मेदार अफसराें व कर्मचारियों को तत्काल बर्खास्त करने की मांग किया गया है, साथ ही आम आदमी पार्टी द्वारा उग्र आंदोलन की चेतावनी दी गई है।

         ज्ञापन सौपने के बाद पत्रकारों से चर्चा करते हुए आम आदमी पार्टी के विधानसभा अध्यक्ष हनीफ मेमन, विधानसभा प्रत्याशी रहे सियाराम ठाकुर, विधानसभा उपाध्यक्ष टिकेश साहू,गुलाम मुस्तफा, खेत्री कश्यप , प्रेमलाल यादव ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि उंदंती सीतानदी अभ्यारण्य क्षेत्र से राजकीय पशु वनभैसा रामू पिछले 06-07 वर्षो से लापता हो गया है, और वन विभाग सीतानदी द्वारा तौर पर रामू वनभैसा के द्वारा फसल क्षति की मुआवजा राशि बांटी गई है, जब रामू वनभैसा 06-07 वर्षो से गायब है, तो कैसे दो साल पहले रामू वनभैसा ने किसानों ने फसलों को क्षति पहुचाया आम आदमी पार्टी ने सवाल किया है यदि रामू वनभैसा किसानों के फसलों को क्षति पहुचाया है तो वन विभाग के जिम्मेदार अफसर बताए कि रामू वनभैसा कहाँ है।  आम आदमी पार्टी के नेताओं ने कहा कि वन विभाग द्वारा वनभैसों के सरंक्षण संवर्धन के नाम पर कागजी कार्यवाही कर शासकीय राशि का बंदरबाट किया जा रहा है और तो और टाईगर रिजर्व जैेसे कीमती जंगलो को वन विभाग सुरक्षित नही कर पा रहा है, ओडिसा प्रदेश के लेाग लगातार जंगलो के भीतर अवैध कब्जा कर रहे है, और वन विभाग सिर्फ कार्यवाही कर रही है।

आम आदमी पार्टी के नेताआें द्वारा यह भी आरोप लगाया गया है कि हाथियों के दल द्वारा फसल क्षति के नाम पर भारी भ्रष्ट्राचार किया जा रहा है, जिसकी शिकायत व प्रमाण उनके पास है जल्द ही इस मामले का खुलासा आम आदमी पार्टी द्वारा किया जायेगा साथ ही इस मामले को लेकर आम आदमी पार्टी द्वारा छत्तीसगढ शासन के वनमंत्री मोहम्मद अकबर, मुख्य सचिव छत्तीसगढ शासन, मुख्य वन सरंक्षक वन्य प्राणी छत्तीसगढ, वन संरक्षक वन्य प्राणी रायपुर, कलेक्टर गरियाबंद , उदंती सीतानदी टाईगर रिजर्व के उपनिदेशक, वनमंडलाधिकारी गरियाबंद को ज्ञापन प्रेषित कर राजकीय पशु वनभैसा रामू के लापता होने के मामले की जांच करने की मांग की गयी है।

साथ ही वनभैसा रामू के लापता होने मामले में जिम्मेदार वन अफसराें, वन कर्मचारियों को बर्खास्त करने की मांग की है, साथ ही कार्यवाही नही होने पर मैनपुर तहसील मुख्यालय में उग्र आंदोलन के साथ जिला मुख्यालय गरियाबंद में उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

*रामकृष्ण ध्रुव की रिपोर्ट*

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *