कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने जिले में चलाए जा रहे वजन त्यौहार के मद्देनजर आंगनबाड़ी केन्द्रों का लिया जायजा

कोरबा 15 जुलाई। जिले में बच्चों को कुपोषण से मुक्ति दिलाने के लिए सात जुलाई से 16 जुलाई तक वजन त्यौहार मनाया जा रहा है। इसी तारतम्य में कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने कोरबा जिले में संचालित आंगनबाड़ी केन्द्रों का जायजा लिया। कलेक्टर श्रीमती रानू साहू कोरबा नगर के तुलसी नगर में संचालित गेरवाघाट क्रमांक-2 आंगनबाड़ी केन्द्र पहुंची। श्रीमती रानू साहू ने बच्चों के पोषण स्तर, ग्रोथ चार्ट, प्रारूप व्ही.टी. में बच्चों के पोषण स्तर, वजन, कुपोषण स्तर की इंट्री आदि के संबंध में जानकारी महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों से ली। इसके साथ-साथ आंगनबाड़ी केन्द्रों में आने वाले बच्चों की संख्या के संबंध में भी जानकारी ली। आंगनबाड़ी सहायिका ने बताया कि प्रतिदिन 20-25 बच्चे केन्द्र में आ रहे हैं। कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने फेटाल डॉप्लर की उपलब्धता के संबंध में भी जानकारी ली। इसके साथ-साथ प्रारूप व्ही.टी. में बच्चों के कुपोषण स्तर एवं अन्य आवश्यक जानकारियों की पूर्ण इंट्री ना होने पर नाराजगी जाहिर करते हुए सी.डी.पी.ओ. मनोज अग्रवाल तथा महिला पर्यवेक्षक कीर्ति जैन को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश डीपीओ श्री ए. पी. किस्पोट्टा को दिये। पार्षद एवं स्थानीय लोगों ने तुलसी नगर में ही गेरवाघाट क्रमांक-2 आंगनबाड़ी केन्द्र खेले जाने की मांग रखते हुए इस संबंध में भेजे गए प्रस्ताव के बारे में भी जानकारी दी। कलेक्टर श्रीमती साहू ने संज्ञान में लेते हुए प्रारंभ किए जाने का आश्वासन दिया। इसी क्रम में कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने कोरबा शहर के आंगनबाड़ी केन्द्र पंप हाउस क्रमांक-2 नंदघर में पहुंचकर वजन त्यौहार की गतिविधियों की जानकारी ली तथा आकंड़ो को प्रपत्र में व्यवस्थित रूप से इंट्री करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने कटघोरा विकासखण्ड के ग्राम पंचायत रलिया में स्थित आंगनबाड़ी केन्द्र का जायजा लिया। श्रीमती साहू ने बच्चों के हिमोग्लोबिन परीक्षण तथा उसका रजिस्टर में संधारण और प्रारूप व्ही.टी. में आवश्यक जानकारियों की इंट्री के संबंध में जानकारी ली तथा वजन संबंधी आंकड़ों के व्यवस्थित रूप से इंट्री के निर्देश दिए। श्रीमती साहू ने वजन त्यौहार को कुपोषण मुक्ति की दिशा में महत्वपूर्ण कदम बताते हुए इसके सफल संचालन के निर्देश अधिकारियों को दिए।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *